प्रदेश में चने के रकबे में आयी कमी

  प्रदेश में चने के रकबे में आयी कमी :- राज्य में  अब  तक बोनी 131 लाख हैक्टर में। 

भोपाल- प्रदेश में रबी बोनी तेजी तेजी से बढ़ रही है। अब केवल गेहू की बुवाई कुछ जिलो में  की जा रही है। अब तक १३१ लाख हैक्टर में कुल रबी बोनी कर ली गयी है,इस वर्ष गत वर्ष की तुलना में चने की बुवाई कम क्षेत्र में हुई है तथा लक्ष्य भी कम किया गया था। जबकि गेहू की बोनी गत वर्ष की तुलना में बड़ी है। 

कृषि विभाग के मुताबिक  अब तक प्रदेश में 87. 4 लाख हैक्टर में गेहू बोया गया है जो गत वर्ष की तुलना में 8 लाख हैक्टर अधिक है,गत वर्ष तुलना में दलहनी फसल 1 लाख हैक्टर कम क्षेत्र में बोई गई है तथा तिलहनी फसलों की स्तिथी सामान्य है,वही चने की बोनी लग भग 2 लाख हैक्टर काम क्षेत्र में हुई है। 

प्रदेश में रबी फसलों का सामान्य क्षेत्र  107 . 33 लाख हैक्टर है ,इस वर्ष 136 . 97  लाख हैक्टर में रबी फैसले लेने का लक्ष्य रखा गया है ,इसके विरुद्ध अब तक 131. 06 लाख हैक्टर में बोनी की गयी है। इसमें रबी की प्रमुख फसल गेहू की बोनी अब तक 87 . 04  लाख हैक्टर में बोया गया है. कृषि विषेशगियों  के  मुताबिक तापमान में गिरावट के गेहू की बोनी तेजी से बड़ी है ,गत वर्ष 102 . 27 लाख हैक्टर में गेहू बोया गया था। इस वर्ष 102 . 76 लाख हैक्टर में गेहू बुवाई का लक्ष्य रखा गया है है। 

राज्य में रबी की दूसरी प्रमुख फसल चने की  बोनी  रकबा इस वर्ष घटा है ,अब तक 25. 73 लाख हैक्टर में बोनी की गई है, जबकी गत वर्ष इसकी बोनी अब तब 27 . 35 लाख हैक्टर में कर ली थी। राज्य में इस वर्ष 19 . 27 लाख हैक्टर में चना बोने का लक्ष्य रखा गया है,जबकि चने का सामान्य क्षेत्र 29. 73 लाख हैक्टर है। प्रदेश में अन्य फसलों के तहत अब तक जौ 93 हज़ार हैक्टर में ,मटर  2. 61  लाख हैक्टर में ,मसूर 4. 99 ,सरसो 7. 81  लाख हैक्टर में बोई गई  है.



Leave a Comment